Languriya Bhajan Lyrics In Hindi

Languriya Bhajan Lyrics In Hindi

लांगुरिया धोखे बाज़ रेल मे लुट गई रे लांगुरिया,
लूट गई रे लांगुरिया में तो लूट गई रे लांगुरिया,
लांगुरिया धोखे बाज़ रेल मे लुट गई रे लांगुरिया,

मेरे माथे का टीका उलझ गयो लांगुरिया,
झुमकी पे मारो हाथ रेल में लूट गई रे लांगुरिया ,
लांगुरिया धोखे बाज़ रेल मे लुट गई रे लांगुरिया

मेरे हाथों का कंगन उलझ गयो लांगुरिया,
मुदरी पे मारो हाथ रेल में लूट गई रे लांगुरिया,
लांगुरिया धोखे बाज़ रेल मे लुट गई रे लांगुरिया,

Listen also: Ganesh Vandana Lyrics

मेरे कमर की तगड़ी उलझ गई लांगुरिया,
गुठी पे मारो हाथ रेल में लूट गई रे लांगुरिया,
लांगुरिया धोखे बाज़ रेल मे लुट गई रे लांगुरिया

मेरे पैरों की पायल उलझ गई लांगुरिया
बिछवे पे मारो हाथ रेल में लूट गई रे लांगुरिया
लांगुरिया धोखे बाज़ रेल मे लुट गई रे लांगुरिया

लांगुरिया धोखे बाज़ रेल मे लुट गई रे लांगुरिया
लूट गई रे लांगुरिया में तो लूट गई रे लांगुरिया
लांगुरिया धोखे बाज़ रेल मे लुट गई रे लांगुरिया

Languriya Bhajan Lyrics In Hindi

Leave a Comment