Shirdi Vale Ki Kaisi Maya Lyrics

Shirdi Vale Ki Kaisi Maya Lyrics

शिर्डी वाले की कैसी माया बिना तेल के दीप जलाया
पतझड़ के मोसम में देखो प्यार का फूल खिलाया
शिर्डी वाले की कैसी माया बिना तेल के दीप जलाया

शिर्डी में धाम निराला है साईं नाथ मतवाला है
सिर पे पटका बाँध लिया काँधे झोला ढाला है
हाथो में कासा रहमत वाला खुशियाँ भर के लाया
शिर्डी वाले की कैसी माया बिना तेल के दीप जलाया

साईं राम साईं राम भजले प्यारे साईं राम
साईं राम के नाम से बनते देखो सब के बिगड़े काम
शरण पड़े जो दीं दुखी को साईं ने गले लगाया
शिर्डी वाले की कैसी माया बिना तेल के दीप जलाया

सब का मालिक एक है मेरा साईं बड़ा महान,
प्रेम प्यार है सिखलाता सब को माने एक समान
सच केहता गोपाल है भगतो पैगाम ख़ुशी का लाया
शिर्डी वाले की कैसी माया बिना तेल के दीप जलाया

Shirdi Vale Ki Kaisi Maya Lyrics

Leave a Comment